सोयाबीन की वैरायटी 1 एकड़ में देती है 40 टन का उत्पादन किसानों को करना चाहिए इसकी खेती

सोयाबीन वैरायटी 2023 : नमस्कार दोस्तों बहुत सारे ऐसे किसान है जो सोयाबीन की खेती करते हैं खेती करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं लेकिन फिर भी जब ऊपर की बात आती है उनकी उपज बहुत ही ज्यादा कम होती है जिससे बहुत ही ज्यादा किसान निराश और दुखी हो जाते हैं लेकिन हम आपको आज सोयाबीन की तीन ऐसी वैरायटी के बारे में बताएंगे अगर आप उनकी खेती करते हैं तो 1 हेक्टेयर में आपको कम से कम 40 टन का सोयाबीन उत्पादन मिलेगा इन तीनों सोयाबीन की नसों का वैज्ञानिकों द्वारा उचित रूप से एक्सपेरिमेंट करके बनाया गया है जो भी किसान की खेती करते हैं उनके सोयाबीन के उत्पादन में काफी वृद्धि हो जाती है

सोयाबीन MACS 1407 वैरायटी

सोयाबीन MACS 1407 वैरायटी की की खेती किस्म असम, पश्चिम झारखंड, बंगाल, छत्तीसगढ़ और पूर्वोत्तर राज्यों में इसकी खेती करने के लिए उपयुक्त है इन राज्यों में इसकी खेती करने पर ऊपर बहुत ही ज्यादा होती है और यह गर्डल बीटल, लीफ माइनर, लीफ रोलर, स्टेम फ्लाई, एफिड्स, व्हाइट फ्लाई और डिफोलिएटर जैसे प्रमुख कीट इसका कोई नुकसान नहीं पहुंचा पाते हैं क्योंकि यह इसके लिए प्रतिरोधक है सोयाबीन की वैरायटी की खेती करने के लिए लोग 20 जून से लेकर 5 जुलाई के बीच में खेती करना पसंद करते हैं सोयाबीन की खेती को तैयार होने के लिए जो 4 दिनों का समय लेता है जोताई से लेकर और फसल होने के बाद इसमें से 40 क्विंटल का पैदावार होता है

सोयाबीन आरकेएस-45 वैरायटी

मुख्य रूप से देखने के लिए मिलता है राजस्थान के किसान सोयाबीन आरकेएस-45 वैरायटी की खेती करना बहुत ही ज्यादा पसंद करते हैं राजस्थान के किसान बताते हैं कि उसकी खेती करने पर पैदावार काफी बढ़िया होती है और किसान कहते हैं कि अगर कभी-कभी पानी की समस्या हो जाती है तो यह थोड़ी गर्मी को बर्दाश्त कर लेता है कुछ लोगों ने यह भी बताया कि अगर इसे अच्छी तरीके से इसका ख्याल रखा जाए और सही समय पर उर्वरक दिया जाए तो यह 90 दिन से लेकर 98 दिन के बीच में ही तैयार हो जाता है जिओ की सिम 30 से लेकर 40 क्विंटल का पैदावार देता है

सोयाबीन जेएस 2034 वैरायटी

सोयाबीन जेएस 2034 वैरायटी: किसान बताते हैं कि इसकी खेती करना काफी अच्छी चीज है क्योंकि यह वैरायटी ऊपर तो अच्छी देती ही है साथ में कीटनाशक इसके ऊपर ज्यादा असर नहीं डाल पाते हैं इसका रंग पीला फूलों का रंग सफेद होता है यह किस्म कम वर्षा होने पर भी अच्छा उत्पादन देती है अगर आप इस वैरायटी की खेती करते हैं तो कम से कम आपको बस 1 एकड़ की जमीन चाहिए 1 एकड़ की जमीन में आपको 30 से लेकर 35 किलो की बीज की आवश्यकता पड़ेगी सोयाबीन की खेती की कटाई 80 से 85 जिलों के बीच में हो जाती है 1 हेक्टेयर में इसकी खेती करने पर 24 से 25 क्विंटल का उत्पादन होता है

1 thought on “सोयाबीन की वैरायटी 1 एकड़ में देती है 40 टन का उत्पादन किसानों को करना चाहिए इसकी खेती”

Leave a Comment