इस पेड़ की खेती जो किसान करते हैं उनके लिए यह पेड़ पैसे छापने की मशीन बन जाता है

दोस्तों आमतौर पर देखा जाता है कि आज के किसान धान और गेहूं की खेती करने में लगे हुए हैं लेकिन वहीं पर बहुत सारी ऐसे फसलें भी हैं जिनकी खेती करने पर साल का मुनाफा का फायदा होता है लेकिन आज हमें कैसे पेड़ के बारे में आपको बताएंगे जिस की खेती अगर आप करते हैं तो एक बार मेहनत करने के बाद आपको छोड़ देना है और 12 साल तक इंतजार करना है और 12 साल बाद लगभग आपको इससे करोड़ों का फायदा होगा

Sandalwood plant farming: आज हम आपको बताएंगे कि आप कैसे चंदन के पौधों की खेती करके करोड़ों रुपए कमा सकते हैं इसी खेती में कितनी लागत आती है और आपको कितने समय तक इंतजार करना पड़ता है और इसके लिए कितनी जमीन की आवश्यकता पड़ेगी और कैसी जलवायु होनी चाहिए सारी चीजों को आपको आज हम विस्तार से बताएंगे

चंदन की खेती की विधि

  • भूमि का चयन: चंदन की खेती के लिए, आपको उपयुक्त भूमि का चयन करना होगा। चंदन पेड़ों को संबंधित जलवायु और मिट्टी के अनुरूप जमीन पर उगाया जाना चाहिए। चंदन खेती के लिए धातुमय मिट्टी या लोमड़ी मिट्टी जैसे योग्य मिट्टी का चयन करें।
  • बीज उत्पादन: अच्छी गुणवत्ता वाले चंदन के बीज खरीदें या आप खुद चंदन के पेड़ों से बीज प्राप्त कर सकते हैं। चंदन के बीजों की उगाई के लिए आपको सबसे पहले बीजों को ऊष्णकटिबंधीय संचार के लिए तैयार करना होगा। इसके बाद आपको उचित मात्रा में पानी के साथ चिड़काव करनी चाहिए।
  • पैमेंट और पेड़ों की उगाई: चंदन के बीजों को पहले सप्ताह में पैमेंट में रखने के लिए अंतराल के साथ जमीन में बोया जाता है। बीजों की उगाई के लिए सामान्य रूप से 10-15 वर्ष या उससे अधिक का समय लग सकता है। चंदन पेड़ों को एक न्यूनतम दूरी पर एक दूसरे से उगाया जाना चाहिए ताकि वे विशेष दिखाई दे सकें और उन्हें उचित वातावरणीय परिस्थितियों के लिए पर्याप्त स्थान मिल सके।

चंदन की खेती के लिए जलवायु

  • तापमान: चंदन पेड़ों की उच्चतम विकास स्थिति के लिए मानवीय तापमान 20-30 डिग्री सेल्सियस के बीच होना चाहिए।
  • वर्षा: चंदन की खेती के लिए मान्यता प्राप्त कीटाणुनाशी जलवायु आवश्यक होती है। सालाना वर्षा मात्रा 50-75 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • वातावरण: चंदन पेड़ों को सीधी सुर्खियों, अधिक बारिश या तेज और तेज़ी से चलने वाली हवाओं से सुरक्षा की आवश्यकता होती है।

चंदन की खेती में मुख्य बातें हैं

  • उचित जमीन का चयन करें और भूमि की उचित तैयारी करें।
  • अच्छे गुणवत्ता वाले बीज का चयन करें और उन्हें सही तरीके से बोएं।
  • नियमित रूप से पानी प्रदान करें और जलवायु संबंधी आवश्यकताओं का ध्यान रखें।
  • खेती में पेड़ों की देखभाल करें, जैसे कि उचित प्रशिक्षण और रोग-रोधक उपचार करें।
  • उचित समय पर पैमेंट करें और उगाई हुए पेड़ों की देखभाल करें।

चंदन की खेती में लागत

चंदन की खेती बहुत ही फायदेमंद खेती में से एक है हालांकि इसका उत्पादन करने में काफी समय लगता है आप अगर एक एकड़ में चंदन की खेती कर रहे हैं तो इसमें 300 से 400 पौधों को लगाया जा सकता है एक पौधे से दूसरे पौधे के बीच की दूरी 10 से 15 फीट होनी चाहिए अगर आप चाहें तो इस बीच की दूरी में किसी और भी सब्जी या फल की खेती कर सकते हैं जिससे आप एक अच्छा पैसा कमा सकते हैं क्योंकि चंदन की खेती में 10 से 15 साल का समय लगता है उस बीच आप बचे हुए बीच की जमीन में सब्जी की खेती करके उससे भी अच्छा पैसा बना सकते हैं
अगर आप चंदन की खेती 1 एकड़ में करते हैं तो लगभग आपको 80000 से लेकर ₹120000 तक का खर्चा पूरी खेती करने में आ सकता है

चंदन की खेती से कमाई

चंदन की खेती की कमाई का अंदाजा लगाना आमतौर पर काफी मुश्किल है क्योंकि लेकिन जब कुछ किसानों के चंदन की खेती का सर्वे किया गया तो पाया गया कि 1 एकड़ की खेती करके किसान 50 से 70 लाख रुपया आराम से कमा लेते हैं लेकिन यह कई प्रकार से निर्भर करता है अगर आपके पास चंदन की अच्छी वैरायटी है तो आप उससे एक करोड़ से दो करोड़ पर भी कमा सकते हैं अगर आपके पेट काफी अच्छे होते हैं तो आपकी कमाई और बढ़ जाती है वहीं पर कुछ किसान यह भी दावा करते हैं कि उन्होंने अपने चंदन की खेती को 15 से 20 साल तक रोके रखा था और जब उन्होंने उससे बाजार में बेचा तो उससे उन्हें लगभग 1 से ₹3 करोड़ तक की कमाई हुई यहां पर हमने आप को अधिकतम और न्यूनतम दोनों कमाई बता दी है बाकी आप इससे अधिक जानकारी के लिए अगर कोई चंदन की खेती कर रहा है तो आप उससे संपर्क करके अपने यहां की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

2 thoughts on “इस पेड़ की खेती जो किसान करते हैं उनके लिए यह पेड़ पैसे छापने की मशीन बन जाता है”

Leave a Comment