किसान ने चोरी छुपे रोपा धान पहुंच गई वहां पर पुलिस और कर दिया पूरा धन नष्ट -जानिए क्या था कारण है

अगर 15 जून से पहले अगर कोई भी किसान धान की खेती करता हुआ पकड़ा गया तो उसकी फसल को नष्ट कर दिया जाएगा और उसे दंडित भी किया जाएगा उसके साथ साथ उसके ऊपर पैसों का जुर्माना भी लगाया जाएगा आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला आखिर आशा सरकार क्यों कर रही है किसानों के साथ इसके पीछे क्या छुपा है सरकार का मोटिव पूरी जानकारी आपको नीचे मिल जाएगी

किसान ने चोरी छुपे रूपा धाम जैसे ही पुलिस को पता चला तो पुलिस पहुंच गई खेत में और नष्ट कर दिया पूरे धान को कृषि बिहार की पुलिस ने पूरे धान को डॉक्टर की मदद से नष्ट कर दिया आखिर क्या था मामला आइए जानते हैं दोस्तों इस समय पानी की किल्लत चल रही है लेकिन कुछ किसान जो धान की खेती करते हैं उत्साह में आकर धान की खेती कर रहे हैं जो सरकार को बिल्कुल पसंद नहीं आ रहा है क्योंकि पानी की कमी की वजह से सरकार 15 जून से पहले अगर कोई धान की खेती करते हुए पकड़ा गया तो उसके खेतों को नष्ट कर दिया जाएगा और उसके ऊपर सख्त कार्रवाई भी की जाएगी और ₹10000 तक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है

एक किसान अपने खेत में धान की रोपाई शुरू कर दिया लेकिन जैसे ही कृषि विभाग पुलिस को पता चला वह किसी विभाग की टीम पुलिस के साथ वहां पर पहुंची और ट्रैक्टर की मदद से किसान की सारी फसल को नष्ट कर दिया आइए जानते हैं कि इसके पीछे की क्या थी वजह।

पंजाब के कपूरथला जिले मैं किसान ने मौत से पहले अपनी खेती करना शुरू कर दिया किसान का नाम सुरेंद्र सिंह था सुरेंद्र सिंह ने अपनी मीडिया रिपोर्ट में बताया वह मछुआ गांव में अपने खेत में खेत की रोपाई कर रहा था लेकिन यह बात कृषि अधिकारियों को पता चल गई और वह पुलिस की मदद से ट्रैक्टर लेकर पहुंचे और उसकी पूरी फसल को नष्ट कर दिया वजह से सुरेंद्र सिंह को बहुत ही ज्यादा दुख हुआ क्योंकि उसकी सारी मेहनत नष्ट हो गई हालांकि सुरेंद्र सिंह ने सुल्तानपुर के जल अधिकारी से गुहार लगाई है कि वह जल्द से जल्द रोपनी करने का आदेश दें क्योंकि वह एक बहुत गरीब आदमी है और उसे खेती करके वह अपने परिवार का भरण पोषण करता है और उसके बीच खराब हो रहे हैं

धान रोपनी की तारीख

पूरे पंजाब राज्य को पंजाब सरकार ने चार जोन में बांट दिया है और धान की बुवाई करने के लिए अलग-अलग तारीख तय कर दी है इस आदेशा अनुसार 10 जून से बॉर्डर पर जमीन पर धान लगाया जा सकता है वहीं पर वहीं फिरोजपुर, फरदीकोट, पठानकोट, श्री फतेहगढ़ साहिब, गुरदासपुर, शहीद भगत सिंह नगर, तरनतारन इन सभी जिलों में 16 जून से धान लगाने की छूट है अगर इससे पहले कोई ध्यान लगाता है तो उसकी फसल को सरकार द्वारा नष्ट कर दिया जाएगा यह कृषि अधिकारी का आदेश है

2 thoughts on “किसान ने चोरी छुपे रोपा धान पहुंच गई वहां पर पुलिस और कर दिया पूरा धन नष्ट -जानिए क्या था कारण है”

Leave a Comment