गन्ने की मोटाई और लंबाई बढ़ाने का रामबाण उपाय

दोस्तों बहुत सारे किसान गन्ने की खेती करते हैं और गन्ने की खेती में काफी ज्यादा उत्पादन होता है और काफी अच्छा फायदा भी होता है लेकिन फायदा नुकसान में तब बदल जाता है जब आपका गन्ना अच्छा तो होता है लेकिन नहीं वह लंबा होता है ना ही वह मोटा होता है इस तरीके से किसान को बहुत ही ज्यादा नुकसान हो जाता है आज किस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि कैसे आप अपने गन्ने को मोटा कर सकते हैं कौन से उर्वरक का प्रयोग करके अपनी खेती को और भी ज्यादा उपजाऊ आप बना सकते हैं

गन्ना पतला या मोटा क्यों होता है

गन्ने के पतले और मोटे होने के कई कारण हो सकते हैं आइए जानते हैं कि आखिर गन्ना पतला या मोटा क्यों होता है मुख्य रूप से देखा जाता है कि भारत देश में कुल 116 गन्ने की प्रजातियां पाई जाती हैं जो अलग-अलग प्रकार का उत्पादन देती है कुछ गन्ने की प्रजातियां छोटी होती हैं जो ज्यादा बड़े नहीं होते हैं और उन्हीं में से कुछ प्रजातियां ऐसी होती हैं जो छोटी तो होती है लेकिन काफी ज्यादा मोटा गन्ने का उत्पादन देती हैं और कुछ ऐसी प्रजातियां होती हैं जो बहुत अच्छी होती हैं जो लंबे गन्ने के साथ-साथ मोटे गन्ने का भी उत्पादन देती हैं जिनकी खेती करके किसान काफी अच्छा पैसा कमाते हैं

गन्ने को कीड़ों से बचाने का उपाय

गन्ने को कीड़ों से और रोगों से बचाने के लिए कई प्रकार की दवाओं का प्रयोग किया जाता है लेकिन यह 5 दवाएं काफी ज्यादा प्रचलित है अगर आप के गन्ने के खेत में बहुत ज्यादा कीड़े लग रहे हैं और उसके वजह से आपका गन्ना सूख रहा है तो यह निम्नलिखित दवाओं को डाल कर आप को गन्ने को सूखने आंकड़ों से बचा सकते हैं

एल्सान 50 प्रतिशत घोल 0.50 ली0 प्रति हे0।
डाइमेथोएट 30 प्रतिशत 1.0 ली0 प्रति हे0।
मैलाथियान 50 प्रतिशत 1.0 ली0 प्रति हे0।
इकालक्स 25 प्रतिशत घोल 1.0 ली0 प्रति हे0।
नुवाकान 40 प्रतिशत घोल 0.75 ली0 प्रति हे0।

सूचना: अगर आप इन दवाओं का प्रयोग कर रहे हैं उससे पहले किसी किसी एक्सपर्ट से इन दवाओं से संबंधित जानकारी लेने की किस दवा को कितनी मात्रा में और कब डालना उचित रहेगा

गन्ने की लंबाई और मोटाई को कैसे बढ़ाएं

  1. उपयुक्त बीज चुनें: गन्ने की लंबाई और मोटाई को बढ़ाने के लिए, उच्च गुणवत्ता वाले बीज चुनें। गन्ने के लिए आपके क्षेत्र में विशेषज्ञ बीज विक्रेता या कृषि विभाग से सलाह लें।
  2. समयबद्ध बुवाई करें: गन्ने को अनुकूल भूमि में उचित वक्त पर बोएं। इसके लिए आपको स्थानीय कृषि विभाग या बीज विक्रेता से सलाह लेनी चाहिए। आपको बुवाई की विधि, दूरी और गहनता को भी ध्यान में रखना चाहिए।
  3. उपयुक्त पोषण प्रदान करें: गन्ने की गहनता और मोटाई को बढ़ाने के लिए उपयुक्त पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। आपको नियमित रूप से उपयुक्त मात्रा में जीवामृत, कंपोस्ट, खाद और मिट्टी के तत्वों का उपयोग करना चाहिए। उपयुक्त पोषण सुनिश्चित करने के लिए आप खेती विशेषज्ञों या कृषि विभाग के सलाहकारों से संपर्क कर सकते हैं।
  4. जल संसाधनों का उपयोग करें: गन्ने की लंबाई और मोटाई के लिए पर्याप्त पानी की आपूर्ति आवश्यक होती है। नियमित रूप से सिंचाई करें और पानी की उपयोगिता बढ़ाने के लिए बूंद बूंद सिंचाई तकनीक का उपयोग करें।
  5. खेती की देखभाल करें: गन्ने की लंबाई और मोटाई को बढ़ाने के लिए उचित खेती की देखभाल करना महत्वपूर्ण है। इसमें कीटनाशकों का उपयोग, रोग प्रबंधन, खरपतवार प्रबंधन, और विषाणुरोधी प्रबंधन शामिल हो सकते हैं। अच्छी खेती प्रथाएं अपनाएं और नियमित रूप से खेती की देखभाल करें।

यह सुझाव आपको गन्ने की लंबाई और मोटाई को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं, लेकिन ध्यान दें कि यह केवल आम दिशानिर्देश हैं और आपके क्षेत्र और स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार भिन्न हो सकते हैं। सर्वश्रेष्ठ रिजल्ट के लिए स्थानीय कृषि विशेषज्ञों से सलाह लें।

1 thought on “गन्ने की मोटाई और लंबाई बढ़ाने का रामबाण उपाय”

Leave a Comment